khairaat mein milee mohabbat ke lie.
 mera dil taiyaar nahin, 😕
napharat ise napharat manjoor hai ...
 magar dikhaave ka pyaar nahin।
खैरात में मिली मोहब्बत के लिए….
 मेरा दिल तैयार नहीं, 😕
इसे नफरत मंजूर है…
 मग़र दिखावे का प्यार नहीं।
Dard bewafai ka kash aise raat aayi jab
 uthi mere arthe tabhi barat laye.
दरद बेवफाइ का काश ऐस रट आयी जाब
 उठी मेरी अर्थ तेरी बारात लेटे। 
Nadangi Ki Hadh Toh Dekho Mere Sanam Ki;
E Doston Mujhe Kho Kar Mera Jaisa Khoj Rahi Hai! 
नादंगी की हद तो देखो मेरे सनम की;
ई दोस्तो मुजे खो कर मेरी जय हो खिज रही है! 
Alfaaz Giraa Dete Hain Jazbaat Ki Qeemat;
 Har Baat Ko Alfaaz Mein Tola Na Karo! 
नादंगी की हद तो देखो मेरे सनम की;
ई दोस्तो मुजे खो कर मेरी जय हो खिज रही है! 
Uski Bewafai Pe Bhi Fida Hoti Hai Jaan Apni;
Khuda Jaane Agar Usmein Wafa Hoti Toh Kya Hota! 
उसकी बेवफाई पे भी फिदा होति है जान अपना;
खुदा जाने अगार उस्मीं वफ़ा होति तोह क्या गरम! 
yaar ne dil ka haal moja chhod diya, humane bhee gaharaee me jaana chhod diya,
 aapane SMS karana kya band kar diya, hamane mobail chaarj karana chhod diya. 
यार ने दिल का हाल मोजा छोड़ दिया, हुमने भी गहराई मे जाना छोड़ दिया,
आपने SMS करना क्या बंद कर दिया, हमने मोबाइल चार्ज करना छोड़ दिया।