Dard kya hota hai batayenge kisi roz
Haale-e-dil tumko sunayenge kisi roz
Thi unki ye zidd ke main jaaun unko manaane
Mujhko ye waham tha wo bulaayenge kisi roz
दर्द क्या होता है बताएँगे किसी रोज हाल-इ-दिल तुमको सुनाएंगे किसी रोज थी उनकी ये जिद्द के मैं जाऊँ उनको मनाने मुझको ये वहम था वो बुलाएँगे किसी रोज़